Wednesday, 18 March 2020

गमो को मुस्कान के पीछे छिपाना सिख गए

गमो को मुस्कान के पीछे छिपाना सिख गए,
उसके लिए हम अपने अश्कों को भी पी गए,
अाज अगर मौत आए तो भी गम नहीं,
अब तक उसी के सहारे ही तो जी गए।


        - AlishaNadaf.

तकरार भी उसी से और इकरार भी उसी से

तकरार भी उसी से और इकरार भी उसी से,
अब तो मेरी नफरत भी केह रही हैं तुझे प्यार हैं उससे।


        - AlishaNadaf.

दिल की कही करते हैं तो दिल राजी क्यों नहीं

दिल की कही करते हैं तो दिल राजी क्यों नहीं,
हर वक्त मौज करते हैं तो मजा क्यों नहीं,
हर चीज़ चुराने की सजा हैं यहाँ,
तो दिल चुराने की सजा क्यों नहीं।


         - AlishaNadaf.

हर रोज तेरे सामने बैठ तुझे निहारते हैं

हर रोज तेरे सामने बैठ तुझे निहारते हैं,
फिर भी तेरी profile picture पर हर बार अपना दिल हारते हैं।


         - AlishaNadaf.

तेरे साथ जिंदगी के सफ़र का गुजारा हो जाए

तेरे साथ जिंदगी के सफ़र का गुजारा हो जाए,
तेरे साथ जिंदगी के सफ़र का गुजारा हो जाए,
उम्मीद जागी हैं दिल में मोहब्बत से मोहब्बत दोबारा हो जाए।


       - AlishaNadaf.

Monday, 16 March 2020

इश्क़ के मीनार का एक किस्सा बड़ा मशहूर हैं

इश्क़ के मीनार का एक किस्सा बड़ा मशहूर हैं,
जो दिल के करीब हैं वही दिल से दूर हैं।


      - AlishaNadaf.

वो हैं अगर नज्म तो हम भी अल्फाजो से कम नहीं

वो हैं अगर नज्म तो हम भी अल्फाजो से कम नहीं,
वो हैं अगर आग तो हम भी उस आग लगाने वाली चिंगारी से कम नहीं।


         - AlishaNadaf

गुजरते नहीं ये दिन

गुजरते नहीं ये दिन,
ना ही कटती हैं राते,
कल तक तो लफ्ज भी नहीं थे,
आज होने लगी हैं बाते।


        - AlishaNadaf



मंजिल तो मिल ही जायेगी भटकते भटकते

मंजिल तो मिल ही जायेगी भटकते भटकते,
गुमराहतो वो हैं जो घर से निकलते ही नहीं।


      - AlishaNadaf.

Saturday, 14 March 2020

बड़ी मुश्किल से मिले हैं ये पल

बड़ी मुश्किल से मिले हैं ये पल
इसे खोना नहीं चाहते,
और अब जो तुम्हारे हो चुके हैं तो किसी और के होना नहीं चाहते।


        - AlishaNadaf.

धोका देना कोई तुझसे सिखे

धोका देना कोई तुझसे सिखे,
बेईमानी कोई तुझसे सिखे,
दोस्त समझ के साथ हमने दिया था,
मगर दुश्मनी निभाना कोई तुझसे सिखे।


       - AlishaNadaf.

तुझे चाहा था खुद से भी ज्यादा

तुझे चाहा था खुद से भी ज्यादा,
पर तेरी धडकन तक ना जा सके,
हमारा तो जिक्र भी नही होता होगा तेरी बातो में,
और एक हम है जो तुझे आज भी भुला ना सके।


        - AlishaNadaf.

मुझे छोड कर केहता है

मुझे छोड कर केहता है ,
तुझमे वो बात नही,
मगर मुझे पाने की,
शायद तेरी औकात नही।


        - AlishaNadaf.

Thursday, 12 March 2020

जबसे उसे देखा है,
ना जाने मुझे क्या हो गया,
जिस्म तो हैं यहि,
दिल मगर खो गया।


      - AlishaNadaf.
ना मिलेगा ये रास्ता फिर कभी,
देख तो लो एक बार मुडकर,
ना मिलेगी ये ज़िंदगी दोबारा,
जी लो इसे सारी परेशानीया भुलकर।


        - AlishaNadaf.
ना सोचेंगे तुझको खुद को समझाएगे,
ना देखें सुरत तेरी ना ही नजर आयेंगे,
जी सकता हैं अगर मेरे बिन तू,
मर तो हम भी नहीं जाएगे।


       - AlishaNadaf.
अगर तु चाँद है तो तेरी शाम में ढलना हैं मुझे,
तु है अगर सुरज तो तेरी तपती किरणों में जलना हैं मुझे।


       - AlishaNadaf.
बुरा हो वक्त तो सब आजमाने लगते हैं,
बड़ो को भी छोटे आख दिखाने लगते है,
नये अमीरों के घर कभी भुल कर भी मत जाना,
हर एक चीज़ की किमत बताने लगते हैं।


      - AlishaNadaf.
अकेले आए हो तो अकेले जीने में क्या बुराई हैं,
किसी को इतना भी मत चाहो क्योंकी सब कि किस्मत में लिखी मौत ने जुदाई हैं।


       - AlishaNadaf.
चला गया तू बिच राह में छोड़कर,
ना जाने किस बात पर मुंह मोड़कर,
ये बात याद कर के रोएगा तु भी,
सो जाएंगे जब हम कब्र में मिट्टी ओढ़कर।


      - AlishaNadaf.
तु हैं अगर जो मेरे साथ तो नमाजी,
नहीं तो काफिर बनना हैं मुझे,
तू थाम ले जो जिंदगी के सफर में मेरा हाथ तो राही,
नहीं तो मुसाफिर बनना हैं मुझे।


       -AlishaNadaf.
इश्क़ - ए - तमाशा सब देखते रेह गए,
वो हमे बिखरते और हम खुद को समेटते रेह गए।


        - AlishaNadaf.
मर जायेंगे हम एक दिन तुझे होगी ना इस बात की खबर,
तु पागलों की तरह ढुंढता रेह जाएगा किर भी ना होगा तुझे मेरा दिदार - ए - कब्र ।


      - AlishaNadaf.

Tuesday, 10 March 2020

गुनाह तो बहुत से हुए हैं हमसे,
गुनाह तो बहुत से हुए हैं। हमसे,
मगर हमे सजा वहाँ मिली जहाँ हम बेगुनाह थे।


       - AlishaNadaf.

Saturday, 7 March 2020

कभी नहीं रूठते थे जो हमारी बड़ी-सी गलतियों पे भी,
आज एक छोटी-सी बात पर खफा हो गए,
करते थे कभी जो वफा की बाते
आज वो भी बेवफा हो गए।


         - AlishaNadaf.

Friday, 6 March 2020

कल रात मेरे आँख से आँसु निकल आया,
मैने पूछा तु बाहर क्यो आया,
उसने बोला तेरी आँखों में पेहले से कोई है समाया,
मै चाहकर भी अपनी जगह ना बना पाया।


       - AlishaNadaf.

Thursday, 5 March 2020

तुम्हारी झुकी नजरों का मेरे दिल को छू जाना,
और अपनी नासमझ हरकतो से मेरे दिल का पिघलाना,
फिर अचानक एक अलग से रूप में आना,
और तुम्हारा वो रुप देख कर मेरा चौक जाना,
चलते चलते राह में तुम्हारा मुझसे टकराना,
गलती ना होते हुए भी तुम्हारा माफी माँगना,
पलकें उठाकर नजर से नजर मिलाना,
हलका सा मुस्कुराकर वहा से चले जाना,
कही दुर से मुझे चुपके से देखना,
मेरी नजर जाते ही तुम्हारा छुप जाना,
अपने जज़्बातो को छिपाकर मेरे केहने तक इंतजार करना,
और बयान करते ही झटके से जवाब देना.


          - AlishaNadaf.
भुले नहीं है हम तुम्हें,
बस थोड़े से खफा है तुमसे,
बेवफा नहीं है हम,
आज भी करते वफा है तुमसे।


          - AlishaNadaf.
सामना दर्द से होना ही था,
चाहे हम किसी के भी साथ होते,
तकदीर ही हमारी ऐसी हैं,
आज तुमसे बिछडे हैं तब किसी और से बिछड़े होते।


          - AlishaNadaf.
बस तेरी आवाज़ सुनना चाहते थे हम,
भले ही वो good night word ही क्यों ना हो,
सुकून मिलता हैं इन लफ्जो से,
चाहे तु हमसे खफा ही क्यों ना हो।


           - AlishaNadaf.


खुली आँखों में भी आजकल सपने आते हैं,
तेरे ख़यालों में हम इस कदर खो जाते हैं,
वैसे तो नींद आती ही कम हैं हमे रातो में,
मगर
सपने में कही तुम ना आ जाओ ये
सोचकर हर रात जल्दी सो जाते हैं।


          - AlishaNadaf.
क्यों रेहते हो इतने खोए-खोए से,
जागे लेकिन सोए-सोए से,
यू तो रेहती थी हमेशा आपके होंठों पे हसी,
क्यों लगते हो आजकल रोए-रोए से।


            - AlishaNadaf.

Wednesday, 4 March 2020

ना तेरे आने की ख़ुशी ना तेरे जाने का ग़म,
गुज़र गया वो वक्त जब तेरे दिवाने  थे हम।


       - AlishaNadaf.
तुझे कोई और चाहे इस बात से दिल तो जलता हैं,
मगर फक्र हैं मुझे इस बात पर के मेरी पसंद को हर कोई पसंद करता हैं।


       - AlishaNadaf.
भिगे जमी आँसमा मगर,
सुखा रहा एक मेरा ही घर,
पुरे जहान पर हैं तेरी निगाहे,
एक मैं ही तुझे आया ना नजर।


       - AlishaNadaf.
जख्म से रूबरू हो कर भी दर्द से आँखें चुराते हैं,
लोगो के सामने मुस्कुराकर अकेले में आँसू गिराते हैं।


        - AlishaNadaf.
हर रोज तुझे याद करना ये मेरी आदत हैं,
औरो के लिए पागलपन मेरे लिए इबादत हैं।


        - AlishaNadaf.
मेरा खुदा केहता हैं,
मत सोच बन्दे इतना जिंदगी के बारे में,
मैने ये जिंदगी दी हैं तो कुछ तो सोचा होगा तेरे बारे में।


        - AlishaNadaf
बेवजह किसी पे हसते नहीं हैं हम,
आसानी से किसी के दिल में बसते नहीं हैं हम,
तुमको मिले हैं तो हमे खो मत देना,
क्योंकि एक अनमोल गिरा हैं सस्ते नहीं हैं हम।


           - AlishaNadaf.
हम तो अपनों को मनाने में रेह गए,
बिखरते हुए को बनाने में रेह गए,
मंजिल तो मेरे सामने से निकल गई,
और हम गैरों को रास्ता दिखाने में रेह गए।


             - AlishaNadaf.
बड़ी मुश्किल से मिले हैं ये पल
इसे खोना नहीं चाहते,
और अब जो तुम्हारे हो चुके हैं तो किसी और के होना नहीं चाहते।

                - Alisha Nadaf